Dwarkadheeshvastu.com
                   
बिजली के तार व रस्सी के प्रभाव
बिजली का तार या रस्सी जिस दिशा से भवन में जुड़ी होती है वह भाग उतना ही बढ जाता है।





यहाँ शेड द्वारा दिखाए गए स्थान में कहीं से भी बिजली का तार या रस्सी छत/बॉलकनी/दीवार से बँधी होने से शुभ प्रभाव प्राप्त होंगे क्योंकि पूर्व , उत्तर व नार्थ-ईस्ट भाग का बढ़ना शुभ है।

बिना शेड द्वारा दिखाई गई जगह में कहीं से भी बिजली का तार या रस्सी इत्यादि छत/बॉलकनी/दीवार से बँधी होने पर उस भाग के बढ ने के अशुभ प्रभाव लागू होंगे। यदि इस भाग से तार लाना अनिवार्य है तो इसे जमीन के अन्दर से दबाकर (अन्डरग्राउन्ड) लाकर व दीवार से चिपकाकर ही मीटर तक ले जाएँ।