Dwarkadheeshvastu.com
                   
टाँड, परछत्ति व अलमारी
भवन या कमरे की पूर्व , उत्तर , नार्थ-ईस्ट, नार्थ-वेस्ट व साउथ-ईस्ट की दीवारों और किसी भी कोने में नहीं बननी चाहिए।
शेड द्वारा दिखाई गई सही जगह





भवन या कमरे की पूर्व, उत्तर, नार्थ-ईस्ट, साउथ-ईस्ट, नार्थ-वेस्ट दीवारों और किसी भी कोने मे टाँड/परछत्ति/ अलमारी या कोई वजन (सोफा, टी०वी०, गमला इत्यादि) होने पर इसके अशुभ प्रभाव होते हैं। लेकिन पहिए वाली अलमारी या कोई भी सामान जमीन पर दीवार से न सटते हुए कम से कम एक इंच दूर किसी भी दिशा में रख सकते हैं, इसमें दीमक भी नहीं लगती है।

भवन या कमरे की केवल पश्चिम, दक्षिण व साउथ-वेस्ट दीवारों पर ही इसका निर्माण करना चाहिए।

भवन या कमरे में शेड द्वारा दिखाई गई गलत जगह में टाँड/परछत्ति/ अलमारी या कोई वजन (सोफा, टी०वी०, गमला इत्यादि) के प्रभाव